MyFab11-2019

सुपर संडे के दिन देखिए दो महामुकाबले. एक तरफ रसेल और धोनी की भिड़ंत तो दूसरे मैच में धवन और वार्नर पर होगी नजर.

आईपीएल के 29 वे मैच में आज शाम कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान में कोलकाता नाइट राइडर्स चेन्नई सुपर किंग से भिड़ेगी. कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए यह मैच बेहद ही महत्वपूर्ण मैच होगा. क्योंकि कोलकाता अपने दो लगातार मैच हार के आ रही है. इसे पहले चेन्नई सुपर किंग्स ने चेन्नई मव हराया था, उसके बाद दिल्ली कैपिटल्स ने इन्हें इन्ही के घर पर आकर हराया है.

ऐसे में कोलकाता नाईटराइडर्स का आत्मविश्वास इस वक़्त जरूर कही न कही डगमगाया हुआ होगा. कोलकाता नाईट राइडर्स एक वक्त पर बहुत ही खतरनाक टीम नजर आ रही थी, जिसे हराना लगभग नामुमकिन सा लग रहा है. लेकिन वह चेन्नई सुपर किंग्स की ही टीम थी, जिसने कोलकाता को एक बड़ी हार का स्वाद चखाया था.

ऐसे में अब कोलकाता नाईटराइडर्स अपने घरेलू मैदान निश्चिततौर पर चेन्नई सुपर किंग्स को हरा कर उस हार का बदला भी लेना चाहेगी, साथ ही अंक तालिका में दो अंक भी जोड़ना चाहेगी.

कोलकाता नाईट राइडर्स के लिए कुछ अच्छी बातें दिल्ली कैपिटल्स के साथ खेले गए मैच से निकल के आई वो शुभमन गिल की बल्लेबाजी है. इस युवा बल्लेबाज ने पिछले मैच में शानदार बल्लेबाजी की थी.

वही चेन्नई सुपर किंग्स की टीम भी विजयी रथ बिलकुल भी नही रोकना चाहेगी. इस वक़्त टीम अच्छे दौर से गुजर रही है. चेन्नई इस सीजन में मात्र 1 मैच मुम्बई इंडियंस से हारी है, उसके बाद इस टीम ने पीछे मुड़कर नही देखा और लगातार 3 जीत दर्ज करने के बाद आज चौथी जीत दर्ज करने की कोशिश करेगी.

इस टीम की ताकत अभी तक गेंदबाजी ही नजर आई है. खासकर स्पिन गेंदबाजी इस टीम के लिए हर बार काम करती नजर आई है. टीम के पास हरभजन, ताहिर और जडेजा के रूप में तीन बेहतरीन स्पिनर्स मौजूद है.

पर यदि कोलकाता की पिच देखे तो यहां पर शायद ही स्पिन गेंदबाजो को पिच से कोई ज्यादा मदद मिलेगी. क्योंकि यह 3के ऐसी पिच है, जहां रनों की अच्छी बारिश होती है. कोई भी मैच कम स्कोर का नही होता है. ऐसे में चेन्नई के स्पिनर्स को दिक्कत का सामना तो जरूर करना पड़ेगा.

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि चेन्नई के कप्तान धोनी किस तरह से अपनी टीम का संतुलित करते हैं. ड्वेन ब्रावो की कमी भी टीम को खल रही होगी. ब्रावो एक शानदार बल्लेबाज और आखिरी ओवर्स के माहिर गेंदबाज माने जाते रहे हैं.

ऐसे में इनकी गैरमौजूदगी टीम को आज में मैच में शायद ज्यादा ही महसूस हो सकती है. टीम में इस वक्त कोई ऐसा तेज गेंदबाज मौजूद नही है, जो आखिरी के ओवर्स फेक रहे. मान लें कि यदि कोलकाता चेज कर रही है, और स्पिन गेंदबाजी भी सफल नही जो सकी है, तो दीपक चाहर के अलावा और कोई भरोसेमंद गेंदबाज नही दिखाई देता है.

बल्लेबाजी भी इस टीम की चिंता का विषय जरूर है. इस मैच के हाई स्कोरिंग होने की पूरी सम्भवना है. ऐसे में वाटसन और और रैना का अच्छा प्रदर्शन करना बहुत जरूरी है. हर वक़्त धोनी से उम्मीद करना ठीक नही है. चेन्नई के लिए अच्छी बात यह है कि अम्बाती रायडू पिछले मैच में फॉर्म में दिखाई दिए.

CSK की संभावित प्लेइंग इलेवन.

अंबाती रायडू, शेन वॉट्सन, सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, दीपक चहर, मिचेल संटनर, इमरान ताहिर, फाफ डु प्लेसिस, स्कॉट कुगलेजिन.

KKR की संभावित प्लेइंग इलेवन.

दिनेश कार्तिक (कप्तान), सुनील नरेन, आंद्रे रसेल, क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नीतीश राणा, शुभमन गिल, हैरी गर्नले,प्रसिद्ध कृष्णा।

आज का दूसरा मैच सनराइजर्स हैदराबाद और दिल्ली कैपिटल्स के बीच

सनराइजर्स हैदराबाद और दिल्ली कैपिटल्स के बीच रात 8:00 बजे से खेला जाएगा. इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद निश्चित तौर पर अपनी हार का सिलसिला तोड़ कर के एक बार फिर जीत के रास्ते पर आना चाहेगी, लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद के लिए यह मैच इतना भी आसान नहीं होने वाला है, क्योंकि दूसरी तरफ दिल्ली कैपिटल्स है, जो दो लगातार मैच जीतकर आ रही है. जिनमें से एक जीत रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ है, वहीं दूसरी जीत जो ज्यादा बड़ी है वह कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ है.

दिल्ली कैपिटल्स के लिए अच्छी बात यह है कि इस वक्त टीम के कई बल्लेबाज अपने अच्छे फॉर्म में नजर आ रहे हैं, और पिछले मैच में शिखर धवन की बल्लेबाजी जो की पिछले कुछ मैचों से चिंता का विषय थी, वह भी काफी अच्छी नजर आई.

इसके साथ ही कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मिली जीत के बाद दिल्ली कैपिटल अंक तालिका में चौथे स्थान पर बरकरार है और वह बिल्कुल भी नहीं चाहेगी कि वह इस स्थान से फिसल कर नीचे आए.

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 179 रनों का पीछा करते हुए शिखर धवन ने तो एक अच्छी पारी खेली थी इसके साथ ही टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज ऋषभ पंत ने दी भी एक अच्छी पारी खेली थी और 31 गेंदों का सामना करते हुए शानदार 46 रन बनाए थे.

ऋषभ पंत की पारी में एक बात जो सबसे खास लगी, वह यह थी कि वो जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करते हुए नजर आए. उन्होंने शिखर धवन के साथ मिलकर के 69 गेंदों पर 105 रनों की साझेदारी की. यह ऐसी साझेदारी थी जिसमें मैच को कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों से बहुत दूर पहुंचा दिया, जिसके बाद ऋषभ पंत के आउट होने के बावजूद भी वापस नहीं कर पाए.

यदि सनराइजर्स हैदराबाद की बात की जाए तो यह टीम तब तक बहुत ही मजबूत नजर आती थी जब तक डेविड वॉर्नर और जॉनी बेयरस्टो के बीच लगातार तीन मैचों में शतक की साझेदारी होती थी, लेकिन जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ते गए वैसे ही इनकी ओपनिंग साझेदारी ज्यादा नहीं हो सकी और टीम का मध्यक्रम की कमजोरी सामने नजर आने लगी.

यदि ऊपर से यह दोनों बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो टीम का मध्यक्रम पूरी तरीके से बिखर जाता है. यह इस टीम के सबसे बड़ी कमजोरी है. टीम के मध्य क्रम में विजय शंकर, यूसुफ पठान, दीपक हुड्डा, मनीष पांडे जैसे बल्लेबाज है जो कि कम अनुभवी नहीं है. लेकिन फिर भी इनका प्रदर्शन इनकी क्षमता के अनुरूप तो नहीं रहा है.

वहीं गेंदबाजी में भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल और संदीप शर्मा की तिकड़ी ने इतना प्रभावित नहीं किया है जिसके लिए वह जाने जाते हैं. इस मैच में टीम को उम्मीद होगी कि उनके गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन करें.

वही अफगानी स्पिनर राशिद खान और मोहम्मद नबी मैं अपनी गेंदबाजी से जरूर सबको प्रभावित किया है लेकिन राशिद खान का विकेट ना ले पाना टीम के लिए चिंता का विषय है. जैसा कि हमने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच में देखा था कि गेंदबाज केएल राहुल को नहीं रोक पाए थे.

ऐसे में दिल्ली कैपिटल से खिलाफ इस मैच में अब टीम को पूरी उम्मीद होगी उनके गेंदबाज अपनी पूरी क्षमता के साथ प्रदर्शन करें और इस मैच को जीतें.

सनराइजर्स हैदराबाद की संभावित टीम.

डेविड वॉर्नर, जॉनी बेयरस्टो, विजय शंकर, मनीष पांडे, दीपक हुड्डा, यूसुफ पठान, मोहम्मद नबी, राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, संदीप शर्मा, सिद्धार्थ कौल.

दिल्ली कैपिटल्स की संभावित प्लेइंग इलेवन:-

पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, कॉलिन इनग्राम, ऋषभ पंत, क्रिस मोरिस, अक्षर पटेल, राहुल तेवतिया, अमित मिश्रा या संदीप लमिछाने या ट्रेंट बोल्ट, कगिसो रबाडा और ईशांत शर्मा।